बारां जिले को नही मिली कोई सौगात – पानाचन्द मेघवाल


बारां ( फ़िरोज़ ख़ान ) – वित्त मंत्री दीया कुमारी द्वारा राजस्थान विधानसभा में पेष किए गए अंतरिम बजट में बारां जिले की पूरी तरह से अवहेलना की गई है। बारां-अटरू के पूर्व विधायक पानाचन्द मेघवाल ने राज्य सरकार के प्रस्तुत बजट पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि इस बजट में बारां जिलेवासियों की पूरी तरह से अवहेलना की गई है। बारां जिले में जनता द्वारा चारों विधानसभा सीटों पर भाजपा को विजयी बनाया गया लेकिन भाजपा सरकार द्वारा जिलेवासियों के साथ इस बजट में विष्वासघात किया गया है। भाजपा के दो माह के कार्यकाल में कोई विजन नजर नही आया तथा अभी तक इनकी सौ दिवसीय कार्ययोजना तक तैयार नही हुई है।


मेघवाल ने कहा कि कांग्रेस सरकार के पांच साल के कार्यकाल के दौरान बारां जिले में जो करोडो रूपए के विकास कार्यो की बजट में घोषणाएं हुई थी उसको उठाकर देखे। भाजपा सरकार के प्रथम बजट में बारां जिले की पूरी तरह अनदेखी की गई है तथा विकास के नाम पर कोई सौगात बारां जिले को नही मिली है। राज्य सरकार द्वारा चुनाव के दौरान आमजन से पेट्रोल, डीजल पर वैट कम करने का वादा किया गया था लेकिन इस पर किसी प्रकार का वैट कम नही किया गया है।


एक अप्रैल से लागू होने वाली मुख्यमंत्री आयुष्मान भारत स्वास्थ्य योजना का दायरा क्या रहेगा, इसका खुलासा वित्त मंत्री ने नहीं किया है। वित्त मंत्री ने सिर्फ गरीब, अल्प आय के लोगों का नाम लिया, जबकि प्रदेश में वर्तमान में चिंरजीवी योजना के तहत हर व्यक्ति को लाभ मिल रहा है। गरीब अल्पआय सहित अन्य श्रेणियों को निशुल्क, इनके अलावा अन्य परिवारों को 850 रुपए प्रति वर्ष के प्रिमियम पर यह सुविधा मिल रही है, लेकिन आयुष्मान भारत में बाकी की श्रेणियों को निशुल्क उपचार मिलेगा या कितना प्रिमियम होगा, इसका खुलासा नहीं किया गया है। इसी प्रकार हाडौती के तीन जिलो बारां, झालावाड तथा कोटा के लिए जीवनदायिनी कही जाने वाली परवन वृहद सिंचाई परियोजना के लिए भी बजट में कोई प्रावधान नही किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *